Manokamna Purti Mantra Upay In Hindi

मनोकामना पूर्ती मंत्र Manokamna Purti Mantra | Upay in Hindi | PDF

STOTRA
Table of Contents Hide Table

मनोकामना (Manokamna)

ऐसा कहा जाता है कि प्रत्येक मनुष्य की कुछ न कुछ अलग – अलग इच्छाएँ (मनोकामना)होती हैं. कुछ लोग इन इच्छाओं को व्यक्त करते हैं तो कुछ हमेशा अपने मन में ही दबाकर रखते हैं एवं किसी को भी नहीं बताते . यह अपनी कोई अच्छी नौकरी की मनोकामना रखते हैं या कोई अच्छा बिजनेसमैन की तो कोई कभी ऐक्टर बनने की चाह रखते हैं. यह कहा जाता है कि यह कुछ लोग अपनी बात को कभी – कभी बताना चाहते हैं परन्तु न जाने किसी अंजाने के डर से चुप रह जाते हैं.

Also Read:-

शनि बीज मंत्र | Lyrics | Shani Mantra | Meaning in Hindi | PDF

ऐसा कहा जाता है कि यह लोग चाहते तो सभी हैं कि किसी भी तरह उनकी सभी इच्छाएँ पूरी होती रहें  पर ऐसा हो नहीं पाता है. माना जाता है कि कुछ लोग तरह – तरह के उपाय भी  करते हैं पर उनको निराशा ही हाथ लगती है. तो आज हम यहाँ मनोकामना पूर्ति (Manokamna Purti Upay In Hindi) के बारे में जानेंगे .

मनोकामना पूर्ति (Manokamna Purti)

मनोकामनापूर्ति के उपाय (Manokamna Purti ke Upay in Hindi)

1. मनोकामनापूर्ति के लिए जलाएं दीपक –

कहा जाता है कि रोज सुबह तुलसी के पौधे को जल चढ़ाना चाहिए एवं सूर्यास्त के समय गाय के घी का दीपक तुलसी में अवश्य जलाना चाहिए.

2. मनोकामना पूर्ति के लिए करें गणेश पूजा –

मानना है कि रविवार को पड़ने वाले पुष्प नक्षत्र में सफेद अकाव की जड़ लाकर उससे श्रीगणेश जी की छोटी सी एक प्रतिमा बनाकर, गाय के दूध की खीर का भोग उस प्रतिमा पर चढ़ाएं, एवं लाल कनेल  के फूल, चंदन आदि से गणेशजी की विधिवत पूजा व अर्चना करने बाद गणेशजी के बीज मंत्र (ऊँ गं) के अंत में नम: शब्द जोड़कर 108 बार जप करें.

Also Read:-

8 तारीख को जन्मे लोग. LOVE, SUCCESS, HEALTH, CAREER, NATURE

3. मनोकामना पूर्ति के लिए शिव मंदिर में चढ़ाएं रुद्राक्ष –

कहा जाता है कि सुबह – सुबह गौरी-शंकर रुद्राक्ष को भगवान शिवजी के मंदिर में अवश्य चढ़ाएं। इससे हर इच्छा पूरी होती है.

4. मनोकामना पूर्ति के लिए शिवलिंग पर चढ़ाएं बेलपत्र –

ऐसा माना गया है कि किसी शिवमंदिर में जाकर 21 बेल पत्र पर सफेद चंदन का टीका लगाकर अपनी इच्छा उनके सामने बोलकर शिवलिंग पर अर्पित करें .

5. मनोकामना पूर्ति के लिए  जल में सिरायें बड़ का पत्ता –

कहा जाता है कि बरगद (बड़) के बड़े से पत्ते पर अपनी जो भी इच्छा है उसे लिखकर बहते जल में बहा दें, आपकी सभी इच्छा पूर्ण हो जायेगी.

6.मनोकामना पूर्ति के लिए लगायें परिक्रमा –

ऐसा भी कहा गया है कि कोरे सूती लाल कपड़े में एक जटावाला गीला नारियल बांधकर किसी नदी के बहते हुये जल में प्रवाहित करने के पश्चात अपने हाथ जोड़कर दाहिने हाथ की ओर से 3 बार परिक्रमा अपने स्थान पर ही लगायें, चाही हुई मनोकामनाएं अवश्य पूरी हो जाती हैं .

7. मनोकामना पूर्ति के लिए करें इष्ट देव के मन्त्रों का जाप –

मानना है कि सबसे पहले तो आप जिस किसी भी देवी-देवताओं को अपना इष्टदेव मानते है, उस देवी – देवता को सुबह के समय स्नान करके उनको याद करना कभी न भूलें. अपने इष्टदेव को सुबह के समय याद करने से कठिनाइयों का सामना कम करना पड़ता है. साथ ही आप जिसको भी इष्टदेव मानते हैं उनके मंत्रों का जाप अवश्य किया करें.

8. मनोकामना पूर्ति के लिए करें दान –

कहा जाता है कि अपने इष्टदेव के नाम पर गरीबों में कुछ न कुछ दान अवश्य किया करें यदि आप ऐसा करते है तो आपके जीवन की सारी उलझनें दूर हो जाती है और भगवान आपसे बहुत ही प्रसन्न रहते हैं .

Also Read:-

Gayatri Mantra with Meaning in Hindi | Benefits | Words | Lyrics

9. मनोकामना पूर्ति के लिए करें तप –

मानना है कि आप जिनको भी इष्टदेव मानते हैं उनके नाम पर कोई भी तप ( तपस्या) अवश्य किया करें. पूजा व अर्चना में आप शरीर से किसी भी चीज का मोह को छोड़ सकते हैं, जैसे चावल खाना छोड़ दे, या फल छोड़ दे यह कुछ समय के लिए आप कर सकते हैं. आप जिस भी चीज के छोड़ रहे है, एक समय के बाद वो चीज किसी भी गरीब को दान में दे दें. ऐसा करने से भगवान अति प्रसन्न होते हैं एवं आपकी हर इच्छाओं को पूरा करते हैं .

10मनोकामना पूर्ति के लिए करें हनुमान जी को खुश –

ऐसा कहा जाता है कि भगवान हनुमान जी की पूजा व अर्चना करते समय हमे इस बात का ध्यान अवश्य रखना चाहिए कि जब हम उनकी पूजा व अर्चना करें तो सच्चें मन एवं पूरी श्रृद्धा, पवित्रता के साथ ही करना चाहिए.

Also Read:-

Ma Durga- माता को प्रसन्न करने के मन्त्र | लक्ष्मी | सौभाग्य | मोक्ष

11. मनोकामना पूर्ति के लिए बड़ के पत्ते को रखें अपने बटुए में –

ऐसा कहा जाता है कि ब्रह्म मुहूर्त में अपनी सभी नित्य कामों से निवृत्त होकर बड़ (बरगद) के पेड़ का एक पत्ता तोड़ें और इसे साफ पानी से धोकर इसे कुछ देर हनुमानजी की प्रतिमा के सामने रखें और फिर इसमें केसर से श्रीराम लिखें। इसके बाद इस पत्तें को अपने किसी बटुए में रख लें। इससे आपके बटुए में कभी भी धन की कमी नहीं हो सकती .

मनोकामनापूर्ति मंत्र (Manokamna Purti Mantra Fulfill Your Wishes)

ऊँ सूर्याय नम:

ऊँ नम: शिवाय

ऊँ रामदूताय नम:

ऊँ रुद्राय नम: आदि।

मनोकामनापूर्ति के टोटके (Manokamna Purti Ke Totke)

  1. ऐसा कहा जाता है कि अपने इष्टदेव को सुबह के समय याद करने से कठिनाइयों का सामना कम करना पड़ता है. साथ ही आप जिसको भी अपना इष्टदेव मानते हैं उनके मंत्रों का जाप अवश्य करें। जैसे- ऊँ सूर्याय नम:, ऊँ नम: शिवाय, ऊँ रामदूताय नम:, ऊँ रुद्राय नम: आदि. आप जिस भी देवी-देवता को मानते हैं उनका घर में एक बार पाठ एवं हवन अवश्य कराएं.
  2. ऐसी मान्यता है कि आप सबसे पहले पीपल के पेड़ पर आटे का दीपक अवश्य जला लें. इसके पश्चात आप हनुमान चालीसा का पाठ नियमित करें. हनुमान चालीसा का पाठ पूरा हो जाने के पश्चात पीपल के पेड़ में ही लगे पीपल के एक बड़े पत्ते पर अपनी इच्छा को अवश्य लिख दें . इसके पश्चात जिस पत्ते में आपने अपनी इच्छा को प्रकट किया है उस पत्ते वाली डाली पर 7 बार एक लाल कलावा भी अवश्य बांध दें. जिससे आपकी हर इच्छा पूर्ण हो जाएगी .
  3. यह कहा जाता है कि आपको अमावस्या या शनिवार की सुबह एक नींबू लेना है और उसके चार टुकड़े करने हैं. इसके पश्चात थोड़ी सी पीली सरसों, 21 काली मिर्च व 7 लौंग फूल वाली लेकर बिजनेस वाले स्थान पर कहीं भी रख दें. फिर शाम के समय इन सभी चीजों को एक काले कपड़े में बांधकर किसी सूखे कुंए में फेंक दें, जिसमें पानी बिल्कुल न हो. ऐसी मान्यता है कि हर महीने इस उपाय को करने से व्यापार पर लगी नजर एवं सभी तरह की बाधा व उलझनें हमेशा के लिए दूर हो जायेंगी और आपका व्यापार अच्छी तरीके से चलने लगेगा.
  4. ऐसा कहा जाता है कि हल्दी की 7 साबुत गाठें, 7 गुड़ की डेली, एवं एक रुपए का सिक्का अवश्य ले लें. इन तीनों चीजों को गुरुवार के दिन पीले कपड़े में बांधकर रेलवे लाइन के पार फेंक दें. जब आप इसे फेंक रहे हों, तब अपनी उस इच्छा को बोल दें जिसकी पूर्ति नहीं हो पा रही या बाधा या कोई मुसीबत आ रही हो. ऐसा करने से बिना किसी बाधा या मुसीबत के आपकी हर इच्छा पूरी हो जाएगी.
  5. माना जाता है कि परिवार में सुख-शांति और समृद्धि चाहते हैं तो रोज पहली रोटी के चार बराबर टुकड़े करें और इन चारों टुकड़ों को एक-एक कर क्रमश: गाय को, दूसरा काले कुत्ते को, तीसरा कौए को और चौथा चौराहे पर रख दें. ऐसा करने से घर में सुख शांति बनी रहेगी एवं समृद्धि भी आएगी.
  6. यह कहा जाता है कि घर के किसी भी कार्य के लिए निकलते समय पहले उल्टी दिशा में 4 कदम अवश्य चलें, इसके पश्चात काम पर चले जाएं, ऐसा करने से आपका काम अवश्य बनेगा और कोई उलझनें पैदा नहीं होंगी.

Also Read:-

Ram Mantra for Success- प्रभु राम के सटीक मंत्र | Siddhi | Benefits

शिव जी का मनोकामनापूर्ति मंत्र (Manokamna Purti Shiv Mantra in Hindi)

‘ॐ नमः शिवाय शुभं शुभं कुरू कुरू शिवाय नमः ॐ’

नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर Manokamna Purti Mantra  or Upay in Hindi pdf   डाउनलोड करें.

Download Manokamna Purti Mantra  or Upay in Hindi pdf