Aakde Ka Paudha ये बना सकता है आपको मालामाल (सफ़ेद आक का पौधा )

Fayde

Aakde Ka Paudha In Hindi

ऐसा कहा जाता है कि यह एक बहुत ही दुर्लभ पौधा है, जिसकी जड़े समय के साथ-साथ भगवान श्री गणेश जी के रूप में परिवर्तित हो जाती हैं। कहते हैं कि18 इसकी जड़ घर में रखने से धन का अभाव बिल्कुल नष्ट हो जाता है एवं किसी भी तरह की नकारत्मकता अपना प्रभाव बना नहीं पाती। आंकड़े का पौधा केवल मुख्यद्वार पर या फिर घर के सामने हो तो वह अति शुभ व फलदायी माना जाता है। इसे भगवान श्री गणेश जी का पौधा भी मानते हैं एवं यह दूध वाला होता है।

कहा जाता है कि जिस घर में यह पौधा बहुत अधिक फलता-फूलता है वहां सदैव उन्नति ही उन्नति बनी रहती है। जिस घर में यह पौधा लगा होता है उस घर पर कोई बुरी नजर नहीं लगती एवं वह काली शक्तियों से भी बिल्कुल मुक्त रहता है।

Also Read – Harsingar (पारिजात ) Plant के हैरान करने वाले औषधीय फायदे

Akade ka Paudha Kaise Hota Hai

ऐसा कहा जाता है कि आकड़े का पौधा एक प्रकार की झाड़ी नुमा पौधा होता है जिसमें बहुत सारी शाखाएं पाई जाती हैं एवं इस पौधे की ऊंचाई लगभग 2.5 मीटर तक हो सकती है तथा इसकी पत्तियां समतल एवं अंडाकार की तरह पाई जाती हैं।

कहा जाता है कि मदार या आक एक औषधीय पौधा है जो पूरे विश्व में बंजर जमीन, खुले एवं शुष्क क्षेत्र में स्वयं उग आता है। आक दुनिया भर में गर्म जलवायु, शुष्क, क्षारीय एवं रेतीले मिट्टी वाले हिस्सों में भी बहुत अधिक पाया जाता है। आपको ये बता दें कि इसकी मुख्य रूप से दो किस्में पाई जाती हैं कैलोट्रोपिस प्रोसेरा (बैंगनीफुल) एवं कैलोट्रोपिस जिगांटे (सफेदफूल)

Also Read – Desi Aayurvedic Gharelu Nuskhe In Hindi घरेलू आयुर्वेदिक नुस्खे हिंदी

akade ka paudha ke fayde- aakde ka paudha ke fayde

घट्टा (आटण ) में असरदार :  

ऐसाकहाजाताहैकीआकड़े(आक) का दूध एवं गुड़ दोनों को समान मात्रा में मिलाकर घट्टा (आटण) पर लगाने से घट्टा बिल्कुल भी ठीक हो जाता है।

पथरी को नष्ट करना :

आपकोयेबतादेंकिआकड़े के 2 से 3 फूल पीसकर 1 गिलास दूध में घोलकर रोज सुबह करीब 40 दिन पीने से पथरी तुरंत निकल जाती है।

Also Read – पतले होने के घरेलू एवं बेहद आसान तरीके| हिंदी उपाय

बवासीर को दूर करना :

कहाजाताहैकिसूर्योदय से पहले आकडे़ की 3 बूंद दूध बताशे में डालकर खाने से बवासीर से तुरंत आराम मिलता है।

मलेरिया का खत्म होना :

ज्ञातहुआहैकिआकड़े(आक) के फूल की दो डोडी (बिना खिले फूल) थोड़ा – सा गुड़ में लपेटकर मलेरिया ज्वर आने से पहले खाने से मलेरिया बिल्कुल भी नहीं चढ़ता है।

बिच्छू का विष उतरना :

कहतेहैंकिबिच्छू के काटने पर विष उतारने के लिए आक की जड़ को पानी में पीसकर इसका लेप लगाने से मरीज को तुरंत आराम मिलता है।

दांत का दर्द में तुरंत आराम मिलना :

ऐसाकहाजाताहैकिदांत के किसी भी प्रकार के दर्द में मदार के दूध में थोड़ा – सा व्रत वाला नमक मिलाकर दर्द वाले स्थान पर लगा देने से दंतशूल में तुरंत आराम मिलता है।

Also Read – Akbar Birbal Kahani In Hindi | अकबर बीरबल की शिक्षाप्रद कहानियां

aakde ka paudha in English- यहाँ बताना है की आकडे के पौधे को इंग्लिश में क्या कहते हैं

आंकड़े के पौधे को इंग्लिश में Statistics कहते हैं.

Safed Akde ka Paudha-

ऐसा कहा जाता है कि श्वेतार्क एक औषधीय पौधा है इसको मंदार’, आक, ‘अर्क’ एवं अकौआ भी कहा जाता है। यह पौधा बहुत ही जहरीला होता है जो आंकड़े के पौधे से सफेद दूध भी निकलता है और गर्मियों के दिनों में प्रायः अनेक स्थानों पर श्वेतार्क के बीज उड़ते हुए नजर आते हैं। साधारण सी भाषा में इनकों अधिकतर लोग ‘बुढ़िया के बाल ‘ भी कहकर पुकारते भी हैं। इसका वृक्ष बहुत ही छोटा एवं छत्तादार होता है तथा पत्ते बरगद के पत्तों समान बहुत मोटे होते हैं एवं हरे सफेदी लिये पत्ते पकने पर यह अधिकतर पीले रंग के हो जाते हैं।

कहा जाता है कि इसका फूल बहुत ही सफेद व छोटा छत्तादार भी होता है। इनके फूल पर रंगीन चित्तियाँ भी होती हैं। इसका फल आम के समान पाया जाता है जिनमें बहुत सारी रूई पाई जाती है यह आक गर्मी के दिनों में रेतिली भूमि पर अधिक पाया जाता है और यह चौमासे में पानी बरसने पर बहुत जल्दी सूख जाता है।

Also Read – 6 तारीख को जन्मे लोग. LOVE, SUCCESS, HEALTH, CAREER, NATURE