रहने के नियम जान लें स्वस्थ रहने के नियम हिंदी में | सुबह उठते ही किन किन बातों का रखें ध्यान जिनसे आप सौ साल तक बुड्डे नहीं होंगे

जान लें स्वस्थ रहने के नियम हिंदी में | सुबह उठते ही किन किन बातों का रखें ध्यान जिनसे आप सौ साल तक बुड्डे नहीं होंगे

Dadi Naani ke Nuskhe

आज हम आपको सुबह उठने से लेकर शाम को सोने तक दिनचर्या के बारे में बतायेंगे ध्यान रहे सबसे पहले आप सुबह उठकर के पानी पीना चाहिए। जिनको मोटापा, कब्ज, कोलेस्ट्रोल, जोड़ो में दर्द आदि उनको गर्म पानी पीना चाहिए। जिनको एसीडिटी है और जिनको कोई समस्या ही नही है सामान्य है शरीर तो सामान्य पानी पी लो, ऐसे भी सर्दी में गर्म पानी नही पीना चाहिए इससे शरीर का टेम्प्रेचर अच्छा रहता है और सर्द गर्म नही होती है।

गर्म पानी पीने के फायदे

गर्मी में ज्यादा ठंडा पानी पियो और सर्दी के अंदर ज्यादा ठंडा पानी पिओगे तो रियक्शन होता है, सामान्य जिनकी पृकृति सामान्य है उनको सामान्य पानी पीना चाहिए गर्मी में थोड़ा- सा गुनगुना, जिनको कब्ज है उनको तेज गर्म पानी पीना चाहिए, मोटापा हो उनको भी गर्म पानी पीना चाहिए ताकि उनका वजन एक से दो किलो तक कम हो जाए।

Also Read-जान लें खाना खाने की परंपरा | क्या क्या होते हैं सुबह गर्म पानी पीने के फायदे एवं नुकसान

सुबह पानी में आप क्या- क्या पी सकते हैं

सुबह सुबह उठते ही पानी का सेवन करना चाहिए। पानी को बैठकर ही पीना चाहिए जिससे घुटने ठीक रहे। लंबे समय तक खड़े होकर पानी पीने से घुटनों यानी जोड़ों में दर्द होने की संभावना हो सकती है, इसलिए खड़े होकर पानी नहीं पीना चाहिए जिनके घुटनों में दर्द हो उन्हें कुर्सी पर बैठकर ही पानी पीना चाहिए। खड़े होकर लंबे समय तक पानी पीने से वात विकृत हो जाता है। सुबह उठते ही आप गौमूत्र का अर्घ पी सकते हैं, फिर आवला, एलोवेरा का जूस भी लिया करें और सुबह सुबह आप गिलोय की गोली खा सकते हैं, गिलोय का काढ़ा भी पी सकते हैं।  गिलोय, आवला, एलोवेरा, गौमूत्र एवं तुलसी के पत्ते, नीम के पत्ते खा सकते हैं, इससे शरीर की शुद्धि हो जाती हैं।

Also Read-Save Water Essay In Hindi | Save Water Par Nibandh

सुबह उठने के बाद किन किन चीजों का ख्याल रखें

लहसून भी आप सुबह-सुबह खा सकते हैं और पानी तो सबको पीना ही पीना है अगर आप थोड़ा-सा ध्यान रखते हैं तो सुबह-सुबह एक बार थोड़ा-सा शरीर का ख्याल जरूर रख लो जिससे आपका शरीर चौबीस घंटे टनाटन रहेगा और बीस मिनट रोज व्यायाम कर लो सौ साल तक आप बुड्डे नहीं होंगे।

Also Read-Sapne Me Khana Dekhna | Khilana | Parosna | Bnana

हमेशा बदल-बदल कर करें भोजन

यह ध्यान रहे कि हमें हमेशा बदल – बदल कर भोजन करना चाहिए कभी एक जैसा भोजन नही खाना चाहिए। दूध गाय और घी ही नहीं खाते रहना चाहिए, कभी सरसों का तेल तो कभी तिल का तेल, सोयाबीन का तेल, राइसब्राइन का तेल यह सब बदल-बदल कर खाना चाहिए और अनाज भी बदल-बदल कर खाना चाहिए जैसे कभी गेंहूँ, बाजरा, मकई,ज्वार आदि खाना चाहिए।

Also Read-Sapne Me Khana Dekhna | Khilana | Parosna | Bnana

डाईट आधी और टाइम डबल

अनाज को खूब चबा – चबा कर खाओ, खुश रहके खाओ जितना खाने में समय लगाते हो वो समय दो से चार गुना कर दो और जितना खाते हो डाईट उससे आधी कर दो, डाईट आधी और टाइम डबल यह ध्यान रखने वाली बात है और हाँ खाना इतना चबा-चबा के कि वो लिकियूद हो जाए। खाना खाने के एक घंटे बाद पानी पीना, सुबह दही, दोपहर छाछ और रात को दूध पीना चाहिए। रात को दही और छाछ नही लेना चाहिए।

Also Read-AM PM Full Form In Hindi | AM Full Form In Hindi