Grilinctus Syrup uses Hindi|ग्रिलिंक्टस सिरप का इस्तेमाल तथा लाभ

Health Tip Hindi

आज इस पोस्ट में हम आपको आसान शब्दों में Grilinctus Syrup uses Hindi के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। चलिए जानते हैं इसमें अमोनियम क्लोराइड, क्लोरफेनेरमाइन मालेएट, डेक्स्ट्रोमेथोरफान एवं गुइफेनेसिन सक्रिय तत्वों के रूप में मौजूद होते हैं।यह वायुमार्ग को साफ़ करने में काफी सहायता करता है,

Grilinctus सिरप क्या है – 

ध्यान रहे कि Grilinctus सिरप एक खांसी suppressant होता है जो सामान्य ठंड एवं फ्लू के दौरान आराम प्रदान करने में काफी सहायता प्रदान किया करता है। यह वायुमार्ग को साफ़ करने, श्वसन पथ से बाहर निकलने में काफी सहायता करता है, पानी की आंखों का इलाज भी किया करता है, खुजली आदि। इसमें अमोनियम क्लोराइड, क्लोरफेनेरमाइन मालेएट, डेक्स्ट्रोमेथोरफान एवं गुइफेनेसिन सक्रिय तत्वों के रूप में मौजूद होते हैं।

सावधानी – 

  • कहा जाता है कि सूरज की रोशनी के लिए अतिरिक्त जोखिम से अवश्य बचें
  • याद रखने वाली बात यह है कि शराब के साथ इस सिरप का प्रयोग बिल्कुल भी न करें.
  • अन्य ठंड दवाओं या खांसी suppressants के साथ Grilinctus सिरप लेने से अवश्य बचें
  • कृपया अपने किसी नजदीकी डॉक्टर को सूचित अवश्य करें कि आपके पास जिगर की परेशानी है
  • अगर आप भारी मशीनरी संचालित किया करते हैं, तो इस सिरप का इस्तेमाल करके आप अपनी दृष्टि को नींद या धुंधला कर सकते हैं। अगर आप इन लक्षणों को महसूस किया करते हैं तो कृपया काम करना जारी रखें
  • दरअसल यह बोतल खोलने के कम से कम 1 महीने के भीतर उपभोग किया जाना चाहिए
  • यदि आप चेहरे, गले एवं जीभ पर सूजन कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर से संपर्क अवश्य कर लें.

दुष्प्रभाव – 

  • मतली का होना (Nausea)
  • उल्टी का होना (Vomiting)
  • उनींदापन रहना (Drowsiness)
  • भूख में वृद्धि होना (Increase hepatitis)
  • चक्कर अधिक आना (Dizziness)
  • खुजली का होना (Rash)
  • दस्त का होना (Diarrhea)
  • एलर्जी का होना (Allergy)
  • किडनी में स्टोन का होना  (Kidney stone)
  • कमजोरी महसूस होना (Weakness)

स्टोरेज –

बता दें कि ग्रिलिंक्टस सिरप को स्टोर करने के लिए आपको इसे साधारण कमरे के तापमान पर ही रखना चाहिए। आपको इसे सूर्य की सीधी किरणों से दूर अवश्य रखना चाहिए। इसको फ्रीज में या बहुत नमी वाली जगह से भी दूर ज़रूर रखना चाहिए। इसे रखने से पहले सबसे बढ़िया यह होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को अवश्य पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। दवा को अपने बच्चों से एवं जानवरों से हमेशा दूर ही रखना चाहिए।

लाभ – 

  • ऐसा कहा जाता है कि ग्रिलिंटस-सिरप (Grilinctus Cough Syrup) सर्दी, जुकाम एवं गले व अन्य परेशानियों से काफी आराम दिलाता है।
  • याद रखने वाली बात यह है कि इस दवा का इस्तेमाल प्रतिदिन 2 से 3 दिन तक ही करना होता है। इसके पश्चात् ही आपको आराम मिलता है।
  • दरअसल इस दवा के प्रयोग से आपको नींद आने की संभावना कुछ ज्यादा हो जाती है तो डॉक्टर रात में इसकी खुराक लेने को अवश्य कहते हैं।
  • ध्यान रहे कि दोनों खुराकों के मध्य कम से कम 4 से 6 घंटे का समय अंतराल अवश्य होना चाहिए। ताकि दवा का असर आपके शरीर में बना रहे।

कुछ ख़ास टिप्स – 

  • बता दें कि कि जब आप यह दवा ले रहे हों तो कंजेशन को कम करने एवं अपने गले को चिकनाई देने में सहायता प्रदान करने के लिए अतिरिक्त तरल पदार्थ पिएं।
  • दरअसल इससे चक्कर एवं नींद भी आ सकती है। जब तक आप यह नहीं जानते कि यह आपको कैसे प्रभावित किया करता है, तब तक गाड़ी बिल्कुल भी न चलाएं या फिर ऐसा कुछ भी न करें जिसमें मानसिक ध्यान देने की ज़रूरत हो।
  • अगर आप मधुमेह के मरीज हैं, तो इस दवा को लेते वक्त नियमित रूप से अपने रक्त शर्करा की निगरानी भी अवश्य किया करें।
  • दरअसल अपने चिकित्सक को यह सूचित करें अगर आपके पास थायराइड या हृदय रोग का इतिहास है।
  • यदि आपकी खांसी 1 सप्ताह से ज्यादा समय तक बनी रहती है, बार-बार आती है, या बुखार, दाने या लगातार सिरदर्द के साथ है तो ग्रिलिन्क्टस सिरप लेना बिल्कुल भी बंद कर दें एवं अपने डॉक्टर को सूचित भी किया करें.

खुराक – 

वैसे तो इस दवा की कोई फिक्स खुराक नहीं है। दरअसल इस दवा की खुराक मुख्य रूप से मनुष्य के वजन, उम्र एवं बीमारी की जटिलता पर निर्भर किया करता है। इस सिरप का प्रयोग करने से पहले आप अपने किसी नजदीकी स्वास्थ्य चिकित्सक से संपर्क अवश्य कर सकते हैं। ग्रिलिंक्टस सिरप की खुराक यदि छूट गई हो तो याद आने पर आप इसकी खुराक का प्रयोग अवश्य कर सकते हैं। किन्तु जब दूसरी खुराक का समय नजदीक आ जाए तब छूटी हुई खुराक का प्रयोग ना करने की सलाह आपको अवश्य दी जाती है।

यदि बीमारी की जटिलता अधिक होगी तो दवाइयों की खुराक को भी बढ़ाया जा सकता है। यदि किसी व्यक्ति का वजन अधिक होता है उस संदर्भ में भी दवाइयों की खुराक को बढ़ाया जा सकता है। कभी-कभी बीमारियों की जटिलता एवं मनुष्य के वजन को देखते हुए दवाइयों की खुराक को दोगुना करना पड़ सकता है। इसके लिए यह आवश्यक है कि दवाइयों के संपूर्ण खुराक को जानने के लिए आप अपने किसी नजदीकी डॉक्टर से संपर्क अवश्य करें।

कीमत – 

बता दें कि Grilinctus syrup के अलग-अलग वैरिएंट की कीमत अलग-अलग होती है जो आपको कम से कम 100 रूपए से लेकर 150 रूपए तक मिल जाती है. जिसे आप अपनी सुविधा के अनुसार ऑनलाइन या फिर अपने किसी नजदीकी दवा की दुकान से अवश्य खरीद सकते हैं.

सामिग्री – 

याद रहे कि ग्रिलिंटस-सिरप (Grilinctus Syrup) केवल चार टैबलेट्स से मिलकर बनी है-

  • Guaifenesin (गुआइफेनसिन)
  • Chlorpheniramine (क्लोरफेनीरामिन)
  • Dextromethorphan (डेक्सट्रोमेथोर्फेन)
  • Ammonium Chloride (अमोनियम क्लोराइड)

दरअसल ग्रिलिंटस (Grilinctus) निम्नलिखित पैकेज एवं क्षमताओं में उपलब्ध है। यह बाजार में बहुत ही सरलता से मिल जाती है, परन्तु बिना डॉक्टर की सलाह के इसका इस्तेमाल आपको बिल्कुल भी नही करना चाहिए।

FAQ – 

प्रश्न – Grilinctus syrup इस्तेमाल के बाद क्या गाड़ी चलाना सुरक्षित माना जाता है?

उत्तर – जी नहीं, ग्रिलिंक्टस सिरप प्रयोग करने के पश्चात् गाड़ी चलाना बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं माना जाता है क्योंकि इस दवा के इस्तेमाल करने के पश्चात् ऊंघने drowsiness की परेशानी अवश्य हो सकती है।

प्रश्न – क्या सूखी खांसी के लिए ग्रिलिंक्टस बहुत ही बढ़िया है?

उत्तर – जी हां, ग्रिलिंक्टस सूखी खांसी के लिए काफी बढ़िया काम किया करता है। यह उन लोगों के लिए कफ सिरप है जिनके मुंह में बलगम बिल्कुल भी नहीं है एवं एकदम सूखी खांसी है।

प्रश्न – क्या इस सिरप को लेने पर मुझे इसकी आदत या लत पड़ सकती है?

उत्तर – जी नहीं यदि आप डॉक्टर के बताये अनुसार इस सिरप का प्रयोग किया करते हैं तो इसकी लत आपको बिल्कुल भी नहीं पड़ती है।

प्रश्न – क्या गर्भावस्था में ग्रिलिंक्टस सिरप पूर्ण रूप से सुरक्षित माना जाता है।

उत्तर – जी बिल्कुल भी नहीं, गर्भावस्था में ग्रिलिंक्टस सिरप का इस्तेमाल न करने की सलाह आपको अवश्य दी जाती है।

प्रश्न – क्या शराब के साथ इसका कोई दुष्प्रभाव देखा गया है?

उत्तर – जी हां, शराब के साथ ग्रिलिंक्टस सिरप का दुष्प्रभाव अवश्य देखा गया है इसलिए शराब के साथ इस दवा का इस्तेमाल बिल्कुल भी ना करें।

निष्कर्ष – 

आशा करता हूँ कि हमारे द्वारा दी गई सारी जानकारी आपको अवश्य पसंद आई होगी अतः आपसे निवेदन है कि अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारी इस वेबसाइट से अवश्य जुड़े रहें. धन्यवाद.