ganesh stotra

Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra(Ganesh Stotram Lyrics)

STOTRA
GANESH JI IMAGE Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra(Ganesh Stotram Lyrics)

Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra ke bare mein- Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra गणेश स्तोत्र का पाठ करने से हर संकट आपसे दूर रहेगा। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं, गणेश स्तोत्र (ganpati stotra) जिसका पाठ आपको आज से ही शुरू कर देना चाहिए। कहा जाता है कि sri ganesh stotram का पाठ गणेश चतुर्थी से शुरू करना चाहिए और 10 दिनों तक करना चाहिए। इस पाठ से जीवन में सुख-समृद्धि आती है और बड़े लाभ होने लगते हैं।

गणेश जी अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते हैं और उनके आशीर्वाद से सारे काम चुटकी में हो जाते हैं। इस पेज में हम Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra के साथ साथ ganpati stotra in Sanskrit, ganpati stotra lyrics और ganpati stotra download in pdf भी दे रहे हैं| यदि आप भगवन गणपति जी की आराधना में कुछ और समय व्यतीत करना चाहते हैं एवं और भी कृपा पाना चाहते हैं तो आप Shri Ganesh Chalisa का पाठ भी कर सकते हैं

Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra

प्रणम्य शिरसा देवं गौरी विनायकम् .
भक्तावासं स्मेर नित्यमाय्ः कामार्थसिद्धये..1..
प्रथमं वक्रतुडं च एकदंत द्वितीयकम् .
तृतियं कृष्णपिंगात्क्षं गजववत्रं चतुर्थकम्..2..
लंबोदरं पंचम च पष्ठं विकटमेव च .
सप्तमं विघ्नराजेंद्रं धूम्रवर्ण तथाष्टमम्..3..
नवमं भाल चंद्रं च दशमं तु विनायकम् .
एकादशं गणपतिं द्वादशं तु गजानन्..4..
द्वादशैतानि नामानि त्रिसंघ्यंयः पठेन्नरः .
न च विघ्नभयं तस्य सर्वसिद्धिकरं प्रभो..5..
विद्यार्थी लभते विद्यां धनार्थी लभते धनम् .
पुत्रार्थी लभते पुत्रान्मो क्षार्थी लभते गतिम्..6..
जपेद्णपतिस्तोत्रं षडिभर्मासैः फलं लभते .
संवत्सरेण सिद्धिंच लभते नात्र संशयः..7..
अष्टभ्यो ब्राह्मणे भ्यश्र्च लिखित्वा फलं लभते .
तस्य विद्या भवेत्सर्वा गणेशस्य प्रसादतः..8..
..इति श्री नारद पुराणे संकष्टनाशनं नाम श्री गणपति स्तोत्रं संपूर्णम्..

CLICK HERE TO DOWNLOAD Sri Sankat Nashan Ganesh Stotra IN PDF

कुछ और चमत्कारिक स्तोत्र जरूर पढ़ें

CLICK BELOW