rohini nakshatra health marriage characterstics and family life

Rohini Nakshatra in Hindi | विशेषतायें | स्वामी | राशि | लव

Nakshatra
Table of Contents Hide Table

Rohini Nakshatra Meaning in Hindi

Rohini Nakshatra in Hindi- वैदिक ज्योतिष में 27 नक्षत्रों में से रोहिणी नक्षत्र तीसरे रोहिणी नंबर पर आता है यहाँ हम मुख्य पौराणिक कथाओं के आधार पर रोहिणी नक्षत्र में पैदा हुए  लोगों के जीवन के विषय में बात करेंगे.

रोहिणी नाम रोहन शब्द से उत्पन्न हुआ है जो उपस्थिति को प्रदर्शित करता है तथा उद्भव का भी प्रतिनिधित्व करता है. इस नक्षत्र की विशेषता ये है कि यह अपने मूल में जन्मे जातकों को जीवन में ऊंचाई छूने और सफलता प्राप्त करने में पूर्ण सहयोग करता है और उन्हें पूर्ण रूप से सक्षम बनाता है.

Also Read:-

Bharani Nakshatra in Hindi | विशेषतायें | स्वामी | राशि | लव

रोहिणी नक्षत्र क्या है?

रोहिणी नक्षत्र का अर्थ होता है लाल रंग वाला, जो इस नक्षत्र की तीव्र एवं काफी जोशपूर्ण प्रवृति दर्शाता है . इस नक्षत्र की प्रतीक बैल गाड़ी है या वाणिज्य से सम्बंधित कार्य हैं. रोहिणी नक्षत्र हमेशा सुंदरता, समृद्धि और प्रचुरता से जुड़ा होता है. रोहिणी परिवहन से जुड़ा नक्षत्र है तथा एक सुपर लग्जरी वाहन के मालिक भी हैं. यह नक्षत्र बहुत उपजाऊ है और इससे जुड़ी ऊर्जा रोहन शक्ति होती है .

‘प्रजापति ब्रह्मा’ द्वारा शासित और चंद्रमा के अन्य ग्रहों के प्रभाव से संचालित, रोहिणी नक्षत्र की विशेषताओं में प्रजनन क्षमता, गर्भाधान, वृद्धि और विकास शामिल हैं.

रोहिणी वृषभ राशि के तारा समूह में 40 ° से 53 ° 20 तक पाया जाता है. यह तारा ऊर्जावान है और इसमें भरपूर गर्मी है. सृष्टि के देवता ब्रह्मा जो कि निर्णय देवता हैं रोहिणी को एक कल्पनाशील और भौतिकवादी प्रकृति प्रदान करते हैं.

Also Read:-

Ashwini Nakshatra in Hindi | विशेषतायें | स्वामी | राशि | लव

कौन है रोहिणी?

रोहिणी चंद्रमा की पसंदीदा पत्नी थी. रोहिणी को पता था कि चंद्रमा को कैसे लुभाना है. नृत्य, गायन संगीत नाटक अभिनय रोहिणी नक्षत्र के साथ दृढ़ता से जुड़ा हुआ है क्योंकि रोहिणी इन सभी चीजों में श्रेष्ठ थीं, और इन विशेषताओं के कारण, वह चन्द्रमा की अन्य छब्बीस पत्नियों की तुलना में चंद्रमा को सबसे अधिक लुभा सकती थीं. चंद्रमा की छब्बीस अन्य पत्नियां सभी रोहिणी से ईर्ष्या कर रही थीं.

इसलिए, निष्कर्ष ये निकलता है कि सशक्त रोहिणी नक्षत्र में जन्म लेने वाले जातकों से लोग बहुत ईर्ष्या करेंगे.

रोहिणी नक्षत्र एक ‘धुर्वा नक्षत्र’ या स्थिर नक्षत्र है. रोहिणी नक्षत्र में विवाह, गृह प्रवेश, यात्रा, दवाई का प्रबंध, बड़े सौदे आदि किए जाते हैं. इस नक्षत्र में ऐसे काम करना भी अच्छा होता है जिनको हस्ताक्षर करके पूरा किया जाता है जैसे कोई बड़ी डील वगैरा.

Also Read:-

27 Nakshatra by Names List | Characteristics | Hindi Meaning | Calculator

रोहिणी नक्षत्र के देवता हैं प्रजापति ब्रम्हा हैं जिनको सृष्टि का निर्माता भी कहा जा सकता है. रोहिणी नक्षत्र लोगों को सम्मोहित करने या आकर्षित करने की क्षमता रखता है. काजल लगाना या कॉन्टैक्ट लेंस धारण करना भी रोहिणी नक्षत्र लोगों की प्रमुख आदत होती है. ये लोग चाहते हैं कि लोग उनकी आंखें निहारें.

Lady in the sky  hellozindgi.com

Rohini Nakshatra in Hindi

रोहिणी नक्षत्र सर्वोच्च विकास का प्रतीक होने के साथ साथ सत्य में वृद्धि का भी प्रतीक माना जाता है. इस सितारे को अल्डबरान के नाम से जाना जाता है. यह लाल मिट्टी का बना दिखाई देता है और आकाशीय स्त्री का प्रतिनिधित्व करता है.

रोहिणी नक्षत्र में जन्मे पुरुषों की विशेषताएं-

इस नक्षत्र (Rohini Nakshatra) में जन्मे का पुरुष बहुत ही गर्म स्वभाव के होते हैं. जब वे किसी चीज़ की जिद पकड़ लें तो उन्हें नियंत्रित करना काफी कठिन हो जाता. वे  (Rohini nakshatra characteristics ) अपने स्वयं के मन के सिवाय किसी के मन या विचारों की परवाह नहीं करते हैं. रोहिणी मूल में जन्मे लोग अक्सर दूसरों की कमियों को खोजने में अपना दिमाग लगते हैं और दूसरों की आलोचना करने के लिए सदैव उन के पास कुछ न कुछ मसौदा तैयार मिलता है. रोहिणी नक्षत्र में जन्मे पुरुष ज्यादातर अपने दिमाग के बजाय अपने दिल का अनुसरण करते हैं. हालाँकि, वे सभी से प्यार करने वाले एवं पारिवारिक व्यक्ति होते हैं और  (Rohini nakshatra male)  अपने प्रियजनों के लिए अपना सब कुछ बलिदान कर सकते हैं .

रोहिणी नक्षत्र वाले पुरुषों की शिक्षा एवं करियर का चुनाव-

रोहिणी नक्षत्र के पुरुषों को 18 से 36 वर्ष की आयु के बीच बहुत से परीक्षणों और क्लेशों का सामना करना पड़ता है. यदि रोहिणी नक्षत्र में जन्मे लोगों की शिक्षाएवं करियर को और गहरे से समझा जाये तो इनकी समस्याएं आर्थिक, सामाजिक और स्वास्थ्य के आधार पर होती हैं. ये जातक 38-50 और 65-75 वर्ष के बीच अपने सर्वश्रेष्ठ चरण का आनंद लेते हैं. इनको व्यापारिक साझेदारों से सावधान रहना चाहिए ये लोग उसे धोखा दे सकते हैं. रोहिणी नक्षत्रवाले पुरुषों को हमेशा अपनी सभी योजनाओं को सभी के सामने तब तक प्रदर्शित नहीं करना चाहिए जब तक कि वह पूरी तरह से सुनिश्चित न हो जायें.

रोहिणी नक्षत्र पुरुष: इनका साथ एवं पारिवारिक जीवन

ऐसा देखा गया है कि रोहिणी नक्षत्र के जातक को अपने पिता से कोई लाभ नहीं मिलता. वह अपनी माँ से और अपनी माँ की ओर वाले अन्य रिश्तेदारों के साथ अधिक प्रेम एवं अच्छे सम्बन्ध रखते हैं. वे (Rohini Nakshatra Family Life) धार्मिक और नैतिक कानूनों का सख्ती से पालन नहीं करते. इसलिए यह देखा गया है कि उनका वैवाहिक जीवन आमतौर पर अशांत रहता है.

रोहिणी नक्षत्र वाले पुरुषों का स्वास्थ्य-

रोहिणी नक्षत्र के पुरुष जातक रक्त से संबंधित बीमारियों जैसे रक्त कैंसर या रक्त शर्करा अर्थात मधुमेह  या डायबिटीज की चपेट में आ जाते हैं. पीलिया और मूत्र संबंधी विकार भी उन्हें परेशान कर सकते हैं.

Also Read:-

Mool Nakshatra मूल नक्षत्र में शिशु का जन्म | बुरा असर | शान्ति उपाय

रोहिणी नक्षत्र महिला लक्षण-

रोहिणी नक्षत्र की महिला जातक (Rohini nakshatra female characteristics) सुसंस्कारी और अच्छी वेशभूषा वाली होती हैं . हालाँकि वे अंदर से बहुत कमजोर होती हैं, लेकिन बाहर से वे लोगों को विश्वास दिलाती है कि वह एक प्रभावशाली इंसान हैं . वैसे तो ये काफी व्यावहारिक होती हैं लेकिन उकसाने पर बहुत गर्म स्वभाव की बन सकती हैं और तो और ये अत्यधिक उकसाने पर हिंसक भी हो जाती हैं.

रोहिणी नक्षत्र महिला: नौकरी एवं अन्य संबंधित क्षेत्र

रोहिणी नक्षत्र की महिला जातक किसी भी कार्य को करने में सक्षम होती है. रोहिणी नक्षत्र में जन्मी स्त्री  एक औसत शिक्षा प्राप्त करती है और ये फैशन डिजाइनर के पेशे में काफी अनुकूल रहती हैं.

रोहिणी नक्षत्र वाली महिलाओं का स्वास्थ्य-

Rohini Nakshatra Ladies रोहिणी  मूल की महिलाओं को स्वास्थ्य को लेकर किसी भी प्रकार की चिंता नहीं करनी पड़ती . कुछ छोटी-मोटी बीमारियों के कारण उनके पैर में दर्द, स्तन दर्द, मासिक धर्म की समस्या और गले में खराश की समस्या हो सकती है.

रोहिणी नक्षत्र में जन्म लेने वाली स्त्रिओं का पारिवारिक जीवन

Rohini nakshatra female अर्थात रोहिणी नक्षत्र की महिला जातक अपने पारिवारिक जीवन का भरपूर आनंद लेती हैं. वे अपने पति से प्यार करती हैं , जो समान रूप से पारस्परिक होगा, और बच्चे उसे बहुत खुशी देंगे. हालांकि, वह कभी-कभी अपने पति पर शक करती हैं और किसी अन्य से ईर्ष्या की प्रवृत्ति विकसित कर लेती हैं .यदि वह इस प्रवृत्ति को से नियंत्रित नहीं कर पाती हैं तो , उनका विवाह तलाक में भी समाप्त हो सकता है.

रोहिणी नक्षत्र शक्तियां-

आप जहां भी होते हैं आप का व्यक्तित्व करिश्माई एवं एक सुंदर छाप छोड़ते हैं. आप के अन्दर एक विशेष गुण है की आप बातों को अच्छे से सुनते हैं अर्थात आप एक एक अच्छे श्रोता हैं.  आपकी कुछ शक्तिशाली विशेषताएं  (Rohini Nakshatra) हैं  संतुलित रहना तथा जिम्मेदारी से अपने कार्यों को निभाना. आप एक अच्छे से बात करने वाले व्यक्ति हैं तथा देखने से ही पता लग जाता है की आप शिक्षित हैं  और आप किसी से ईर्ष्या नहीं रखते हैं.

रोहिणी नक्षत्र कमजोरियां

रोहिणी नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग दूसरों से आसानी से प्रभावित हो जाते हैं. इस नक्षत्र के जातकों में अक्सर नशे की लत देखि गयी है. इसके साथ ये अतिसंवेदनशील होते हैं तथा जैसा की हम पहले ही बता चुके हैं की इन लोगों की दूसरों की निंदा करने में काफी आनंद आता है.

रोहिणी नक्षत्र नाम

Rohini Nakshatra में जन्मे शिशुओं के लिए, निम्न अक्षरों से शुरू होने वाले नाम (names for Rohini nakshatra) सर्वश्रेष्ठ होते हैं-

ओ, वा, वी, वू

रोहिणी नक्षत्र के कुछ रोचक तथ्य

अनुवाद: लाल वर्ण वाला

प्रतीक: रथ या बैलगाड़ी

स्वामी (Lord): चंद्रमा

राशि: वृषभ राशि (वृषभ)

देवता : देवता: ब्रम्हा – सृष्टि के स्वामी

प्रकृति: निश्चित या स्थायी (ध्रुव)

गण: मानव गण (मानव)

शरीर वराहमिहिर: पैर, टांग

शरीर पराशर: आँखें

संख्या- चार

नाम अक्षर : ओ, वै, वि, वु

भाग्यशाली अक्षर: O & V

भाग्यशाली रत्न : मोती

भाग्यशाली रंग: सफ़ेद

भाग्यशाली अंक: 1, 2, 3, 6 और 9

तत्व: पृथ्वी

दोष: कपहा

पक्षी का नाम: उल्लू

योनी- एक पुरुष सर्प

वृक्ष- जामुन

रोहिणी नक्षत्र का भाग्यशाली रत्न कौन सा है ?

हीरा

रोहिणी नक्षत्र की भाग्यशाली संख्याएं कौन सी हैं?

1, 2, 3, 6 और 9

रोहिणी नक्षत्र के भाग्यशाली रंग कौन से हैं?

सफेद, पीला और नीला

रोहिणी नक्षत्र के भाग्यशाली दिन कौन से हैं?

बुधवार , शुक्रवार  और  शनिवार

रोहिणी नक्षत्र में जन्मे लोगों की राशी कौन सी होती है?

रोहिणी नक्षत्र में जन्मे लोगों की मेष राशी होती है

Rohini Nakshatra Rashi मेष (Aries)

रोहिणी नक्षत्र में जन्म लेने वाले कुछ प्रसिद्ध लोग

इस नक्षत्र में जन्म लेने वाले लोग अपने जीवन में अभूतपूर्व ऊंचाइयों तक पहुंचे हैं। कुछ नाम हैं

  • भगवान कृष्ण
  • रानी विक्टोरिया
  • विनोबा भावे
  • रोजर मूर
  • चार्ली चैपलिन
  • जेकी चैन

Rohini Nakshatra Famous Personalities-

  • Lord Krishna
  • Queen Victoria
  • Vinoba Bhave
  • Roger Moore
  • Charlie Chaplin
  • Jakie Chan